मच्छर भगाने के 5 प्राकृतिक तरीके

5 natural ways of mosquito repellents

1. कपूर-(Camphor)
कपूर “Kapura” के रूप में जाना जाता है इस में मच्छर मरने के बहुत प्रभावी गुण होते हैं।यह एक प्रभावी मच्छर repellant है। अपने कमरे में से मच्छरों को भागने के लिए कमरे के सभी खिड़की दरवाजे बंद करके उसमे कपूर जलाएं इसके धुएं को १५-२० मिनट तक कमरे में ही रहने दें, आप देखेंगे की सारे मच्छर भहर भाग गए हैं।

2. तुलसी-(Tulsi)
तुलसी का पौधा मच्छरों के लार्वा को मरने और मच्छरों को घर से दूर रखने में बहुत कारगर है। हमे तुलसी का पौधा अपने दरवाजे के पास तथा खिड़कियों के पास लगने चाहिए, क्युकी इसमें से निकले वाली सुगंध मच्छरों को घर के अंदर प्रवेश करने से रोकती है, जिससे मच्छर आपके घर में नहीं घुस पाएंगे।

3. नीम का तेल-(Neem oil)
नीम का तेल एक असरदार घर के अंदर उपयोग की जाने वाली मच्छर से बचाने वाली क्रीम के बराबर होता है। मच्छरों से बचने के लिए बराबर भागों में नीम का तेल और नारियल का तेल मिलाकर उसे अपने शरीर पर रगड़ें। यह कम से कम आठ घंटों के लिए मच्छर के काटने से रक्षा करेगा।

4. सिट्रोनेला का तेल-(Citronella Oil)
सिट्रोनेला तेल एक आवश्यक तेल है जिसे सिट्रोनेला घास से निकाला जाता है। इस तेल को मच्छरों के काटने से रोकने के लिए बहुत अच्छा जाना जाता है। अपने सारे शरीर पर इस तेल को लगने से मच्छर काटते नहीं है। और अगर हम एक मोमबत्ती में इस तेल की कुछ बुँदे डाल दें तब भी मच्छर कमरे में नहीं आते है। जहाँ मच्छरों के होने की आशंका होती है ऐसी जगह पर इस तेल को स्प्रे बोतल में भर कर छिड़काव करने से भी मच्छर खत्म हो जाते हैं तथा आस पास नहीं आते हैं।

5. नीलगिरी और नींबू का तेल-(Eucalyptus and lemon oil)
नींबू का तेल और नीलगिरी के तेल का मिश्रण मच्छरों से बचने के लिए एक बहुत अच्छा मच्छर नाशक (मोसकुटो रेपलिंग) का काम करता है। इन दोने तेलों में “cineole” पाया जाता है जो एंटीसेप्टिक और कीट नाशक होता है। बराबर अनुपात में नींबू का तेल और नीलगिरी का तेल मिलाकर आपने शरीर के खुले हुए भागो पर इस तेल को लगने से मच्छर नहीं काटते हैं।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

20 + 16 =