गर्मियों में तैलीय त्वचा को दूर करने के लिए घरेलू उपचार

Home remedies for removing oily skin in summer
गर्मियों में अधिकतर लोग अपनी तैलीय त्वचा को लेकर बहुत परेशन रहते हैं। थोड़ी सी गर्मी पड़ी नहीं कि उनके चेहरे पर तेल नज़र आने लगता है। यह इसलिए होता है की अधिकतर लोगो के त्वचा के छेड़ (स्किन के पोर) ज्यादा खुले हुए होते हैं, इसलिए खास तौर पर गर्मियों में वासा हमारे शरीर में होती है वो पिघल कर बाहर आने लगती है, इसी वजह से हमारे चेहरे पर तेल नज़र आने लगता है। और अगर तैलीय त्वचा को ठीक से साफ़ न किया जाए तो इससे चेहरे पर पिम्पल्स भी हो सकते हैं। इस तैलीय त्वचा को दूर करने की सामग्री हमारे घर में आसानी से उपलब्ध हो जाती है, जिसके उपयोग से हम इसे दूर कर सकते हैं।
1. टमाटर (Tomato) 
अपने चेहरे पर टमाटर को आधा काट कर रगड़ें, ऐसा करने से टमाटर में उपस्थित अल्फा और बीटा कैरोटीन, lutein, और लाइकोपीन तेल को दूर करने के लिए बहुत प्रभावी तत्व है साथ ही ये चेहरे का पोषण करके चेहरे पर चमक लाते है। चेहरे में एक लालिमा आ जाती है जिससे चेहरा और सुन्दर दिखता है। इसे सूखने के बाद सादे पानी से चेहरा धो लें और हल्के मोइचुरिजर का उपयोग करें।
2. सेब (Apple)
सेब में एंटीसेप्टिक और हल्का कसैला गुण होता है जो कि त्वचा से तेल को अवशोषित करने का काम करता है। आप अपने चेहरे पर सेब के गुदे को मसल कर लगा सकते हैं, या सेब के मसले हुए गुदे में आधा चम्मच नींबू का रस, 1 चम्मच दही मिलाकर चेहरे पर लगाने के लिए फेस पैक बना सकते हैं। इसे अपने चेहरे पर लगायें और सुख जाने के बाद सादे पानी से धो लें।
3. नींबू का रस (Lemon Juice)
नीबू का रस और पानी की बराबर मात्र मिलाकर चेहरे पर लगायें। जब यह सूख जाए तो ठन्डे पानी से चेहरे को धो लें। ऐसा करने से यह एक फेस वाश की तरह काम करेगा और आसानी से घर में भी उपलब्ध होता है, नीम्बू चिकनाई को हटाने में बहुत कारगर होता है इसलिए इससे चेहरे पर आया तेल दूर हो जाता है। और अगर चेहरे पर पिम्पल्स भी है तो इस मिश्रण में हल्दी मिला कर लगायें, हल्दी में एंटीसेप्टिक गुण होते हैं जो कि चेहरे से इन्फेक्शन को दूर करती है साथ ही सेहरे पर चमक और निखार भी लाती है।
4. दलिया और एलोवेरा
आप अपने चेहरे पर एलोवेरा जेल को दिन में 2-3 बार तेल से लड़ने के लिए लगा सकते हैं। अगर आपके चेहरे पर कुछ ज्यादा ही तेल आता है तो आप एलोवेरा के साथ दलिया भी मिला कर लगा सकते हैं। इससे एलोवेरा में उपस्थित बीटा कैरोटीन, विटामिन C , E और एंटीओक्सिडेंट गुण के कारण यह तेल को त्वचा से दूर करता है तथा दोबारा आने से रोकता है। नोट अगर आपके चेहरे पर पिम्पल्स हैं तो आप दलिया मिलाकर चेहरे पर न लगायें, क्योकि यह आपके चेहरे पर स्क्रब करके जलन पैदा कर सकता है।
5. अंडे सा सफेद हिस्सा (Egg White)
अंडे के सफेद हिस्सा त्वचा से तैलीय परत को हटाने के लिए बहुत ही कारगर माना जाता है, क्योंकि इसमें albumin, mucoprotein, और globulin तत्व होते हैं जो कि त्वचा को पोषण करते हैं और तैलीय सेल्स को नीचे बैठा देतें हैं जिससे तेल त्वचा पर बहार नहीं आता है और चेहरे में इन तत्वों की वजह से निखार व् चमक आती है। आप अपने चेहरे पर अंडे का सफ़ेद हिस्सा लगायें और सुख जाने के बाद धो लें, अगर इसकी दुर्गन्ध से आप इसे नहीं लगा पा रहें हैं तो इसमें नींबू का रस और लैवेंडर के तेल की 2-3 बूंद मिला कर लगायें।
6. मुल्तानी मिट्टी (Multani soil)
मुल्तानी मिटटी में गुलाब जल या सादा पानी मिला कर चेहरे की आवश्यकता अनुसार मात्रा में मिलाकर पेस्ट तैयार करें। इस पेस्ट को चेहरे पर लगायें और 10*15 मिनट बाद सुख जाने पर सादे पानी से धो लें। ऐसा करने से मुल्तानी मिटटी आपकी त्वचा पर आई तैलीय परत को सोख लेती हो और अपने एंटीसेप्टिक गुण के कारण वासा को दोबार त्वचा पर जल्दी आने से रोकती है।
7. खीरा (Cucumber)
खीरे को मिक्सी में कस कर आप अपने चेहरे पर लगा सकते हैं या मिक्सी में कसे हुए खीरे में नींबू का रस मिला कर आप अपने चेहरे पर लगायें। खीरा में उपस्थित खनिज, मैग्नीशियम, पोटेशियम, सिलिकॉन और कसैले गुण के कारण यह चेहरे पर तेल को रुकने नहीं देता है। खीरे में इन गुणों के कारण यह चेहरे का पोषण करता है, चेहरे से तेल दूर करके चेहरे पर ग्लो लाता है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

sixteen − two =